नई शिक्षा नीति इन हिंदी 2020 PDF | Nyi Shiksha Niti 2022

nyi shiksha niti pdf download 2022 | नई शिक्षा नीति इन हिंदी पीडीएफ |राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 pdf download |

भारत सरकार द्वारा देश में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 लॉन्च की गयी है। जिसके भारत के सभी राज्यों और प्रदेशों में लागू किया जायेगा। अभी तक नई शिक्षा निति को लागू करने वाले प्रदेश हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटका, मध्य प्रदेश हैं। जबकि उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, उत्तराखंड, तमिलनाडु, में जल्द ही NEP 2022 लागू की जाएगी। Nyi Shiksha Niti 2022 में 5+3+3+4 के पैटर्न को रखा गया है। NEP की खास बात यह है की बच्चे अपने हिसाब से पाठ्यक्रम को चुन सकते हैं। कॉलिज या किसी कॉर्स की एक साल की पढ़ाई करने पर सर्टिफिकेट दिया जायेगा। जबकि दो साल की पढ़ाई करने पर डिप्लोमा का प्रमाण पत्र मिलेगा। और तीन साल में डिग्री मिल जायेगी यदि आप विस्तृत जानकारी के लिए Nyi Shiksha Niti PDF Download करना चाहते हैं। दिये गये लिंक पर क्लिक करें।

नई शिक्षा नीति इन हिंदी PDF 2022

  • लेख राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020
  • वर्ष 2022
  • भाषा हिंदी
  • संबंधित विभाग/मंत्रालय शिक्षा विभाग /शिक्षा मंत्रालय
  • लाभार्थी देश के छात्र
  • NEP Implementation State Haryana, HP, Karnataka, MP
  • National Education Policy pattern 5+3+3+4
  • आधिकारिक वेबसाइट education.gov.in
  • NEP 2020 PDF in Hindi

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2022 pdf download

अभी तक जो स्कूली शिक्षा का पैटर्न है, उसके अनुसार 10वीं तक बच्चे सारे सब्जेक्ट पढ़ते हैं। दसवीं बोर्ड के रिजल्ट आने के बाद उन्हें स्ट्रीम चुननी होती है। कोई साइंस, कोई ऑर्ट्स तो कोई कॉमर्स लेता है। ग्रेजुएशन में भी पढ़ाई के लिए एक सब्जेक्ट चुननी पड़ती है। नई शिक्षा नीति लागू होने के बाद प्रदेश में 5+3+3+4 के पैटर्न को फॉलो किया जाएगा। इसके हिसाब से स्कूल के आखिर चार साल को एक सामान माना गया है। यानी 11वीं और 12वीं के बच्चे भी अब सारे विषय पढ़ेंगे। उन्हें स्ट्रीम चुनने की जरूरत नहीं पड़ेगी। साइंस स्ट्रीम से पढ़ रहा बच्चा, इतिहास भी पढ़ सकता है। इसके साथ वैकल्पिक विषयों को भी एक विषय के रूप में ही शामिल किया जाएगा। इसे कोई एक्स्ट्रा विषय नहीं माना जाएगा।

नयी शिक्षा नीति 2022 pdf

नई शिक्षा नीति लागू होने के बाद छात्रों के पास ऑप्शन ज्यादा है। वह अपनी मन की पढ़ाई कर सकते हैं। कभी-कभी ऐसा होता है कि हम किसी विषय में दाखिला ले लिया। आगे चलकर हमें पढ़ाई करने का मन नहीं है तो आप दूसरे कोर्स की तरफ जा सकते हैं। मान लीजिए कि आपने फीजिक्स को ग्रेजुएशन के लिए चुना है। अगले साल आपका मन किया कि नहीं हम बीटेक करेंगे। फीजिक्स में एक साल तक आपने जो पढ़ाई की है, उसके लिए आपको सर्टिफिकेट मिल जाएगा। इसके बाद आप बीटेक में दाखिला ले सकते हैं। वहीं, अगर फिर से आपको फीजिक्स में ऑनर्स करने का मन कर रहा है तो अगली बार आपका एडमिशन सेकंड ईयर में हो जाएगा। इससे आपका साल खराब नहीं होगा। दूसरा फायदा यह है कि आपने ग्रेजुएशन की पढ़ाई दो साल बाद छोड़ दी तो आपको डिप्लोमा की डिग्री मिल जाएगी।

Nyi Shiksha Niti 2022

राष्ट्रीय शिक्षा नीति (National Education Policy ) सत्र 2022-22 में यह नीति लागू होगी। इस साल ग्रेजुएशन में जो दाखिले होंगे, उन छात्रों के लिए नए सत्र में उसी हिसाब से सिलेबस होगा। अगले चरण में सेकंड और थर्ड ईयर के छात्रों पर इसे लागू किया जाएगा। नई शिक्षा नीति लागू होने के बाद सर्टिफिकेट एक साल, डिप्लोमा दो साल और डिग्री तीन साल में मिल जाएगी। MP के महाविद्यालयों में 177 डिप्लोमा और 282 सर्टिफिकेट कोर्स शुरू किए जाएंगे। यह जॉब ओरिएंटेड होंगे। नई शिक्षा नीति में छात्रों को योग और ध्यान का पाठ्यक्रम भी जोड़ा गया है, विद्यार्थियों के लिए यह वैकल्पिक विषय होगा। वह अपनी मर्जी से एक वैकल्पिक विषय चुन सकते हैं।

Marks नई शिक्षा नीति का पैटर्न क्या है

नई शिक्षा नीति लागू होने के बाद छात्र अगर ग्रेजुएशन विद रिसर्च कोर्स करते हैं तो उनका पोस्ट ग्रेजुएशन एक साल में हो जाएगा। इस कोर्ट में तीन साल तक आपकी पढ़ाई होगी और एक साल का रिसर्च होगा। कुल कोर्स चार साल का होगा। इसे करने के बाद आपका पोस्ट ग्रेजुएशन एक साल में होगा। वहीं, कोई छात्र तीन साल में ही पढ़ाई को छोड़ देना चाहता है, उसे रिसर्च नहीं करना है। इसके बावजूद उसे ग्रेजुएशन की डिग्री मिल जाएगी।

marks syllabus total 160 points
मेजर विषय 54 क्रेडिट
माइनर विषय 28 क्रेडिट
वैकल्पिक विषय 18 क्रेडिट
कौशल संवर्धन पाठ्यक्रम 12 क्रेडिट
आधार पाठ्यक्रम 24 क्रेडिट
फील्ड प्रोजेक्ट-इंटर्नशिप 24 क्रेडिट

शिक्षा नीति प्रणाली क्या है ?

  • इसमें भारतीय ज्ञान परंपरा के अनुसार पाठ्यक्रमों में समावेश होगा। जैसे मानवीय मूल्य, योग, महिला सशक्तिकरण और नैतिकता।
  • स्नातक के स्तर पर रिसर्च को प्रोत्साहित किया जाएगा।
  • च्वॉइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम
  • कला, वाणिज्य और विज्ञान के विषयों में मिश्रित चयन की स्वतंत्रता
  • व्यावसायिक और योग्यता संवर्धन पाठ्यक्रमों में अध्ययन के अवसर
  • इंटर्नशिप, अप्रेन्टिसशिप, फील्ड प्रोजेक्ट, कम्युनिटी एंगेजमेंट एंड सर्विसेस का फर्स्ट ईयर में समावेश
  • प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना/ओपेन यूनिवर्सिटी के माध्यम से व्यावसायिक एवं योग्यता संवर्धन पाठ्यक्रम में ऑनलाइन अध्ययन की सुविधा।
  • एक कॉलेज में कई विषयों की पढ़ाई की सुविधा
  • एनसीसी, एनएसएम और शारीरिक शिक्षा को पाठ्यक्रम के रूप में अध्ययन की सुविधा
  • सकल नामांकन अनुपात में वृद्धि करने का लक्ष्य
  • शिक्षा की पहुंच, समानता और गुणवत्ता पर विशेष ध्यान
  • विद्यार्थियों में रचनात्मक सोच, तार्किक निर्णय और नवाचार की भावना को प्रोत्साहन देना।
  • डिजिटल शिक्षा को बढ़ावा दिया जाएगा
  • एक विश्वविद्यालय से दूसरे विश्वविद्यालय और एक कॉलेज से दूसरे कॉलेज में स्थानांतरण पर क्रेडिट ट्रांसफर की सुविधा होगी।

 मूल्यांकन मार्क्स क्रेडिट प्रणाली

इसके साथ ही नई शिक्षा नीति लागू होने के बाद छात्रों के पास कॉलेज बदलने की सुविधा भी होगा। अगर आपने एक शहर के किसी कॉलेज में दाखिला लिया हो, आपका मन कर रहा है कि अब हम दूसरे कॉलेज में पढ़ाई करेंगे तो आप करवा सकते हैं। इसके साथ ही आपका क्रेडिट भी ट्रांसफर हो जाएगा। नई शिक्षा नीति में छात्रों के पास ऑनलाइन पढ़ाई की सुविधा भी होगी।परीक्षा पैटर्न में भी बदलाव किए गए हैं। ग्रेजुएशन के पेपर अभी तीन घंटे के होते थे। वार्षिक परीक्षा अब दो घंटे की होगी। साथ ही सवालों के पैटर्न में भी बदलाव होंगे। इसके साथ ही चॉइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम से मूल्यांकन होगा।

Graduation Time Period Marks
एक साल 40 क्रेडिट
सेकंड ईयर 80 क्रेडिट
थर्ड ईयर 120 क्रेडिट
बैचलर डिग्री 160 क्रेडिट
passing minimum marks pr year 40 क्रेडिट

Karnataka National Education Policy 2022

The Government of Karnataka is going to implement the New National Education Policy 2020, from the current academic year 2022-22. The government has issued orders to educational institutions to implement NEP 2020. The National Education Policy will be implemented as per the guidelines issued by NEP. On August 7, 2022, the State Higher Education Minister CN Ashwath Narayan gave instructions to the Higher Education Council officials regarding the implementation of NEP 2020 in the state to outline the speedy implementation of the National Education Policy 2020.

Madhya Pradesh NEP 2022

केंद्र सरकार द्वारा पिछले वर्ष राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 की घोषणा के बाद की गयी। विद्यालयी शिक्षा एवं उच्च शिक्षा में इस नीति के अंतर्गत सुझाये गये। शिक्षा सुधारों को लागू करने की प्रक्रिया केंद्र सरकार के साथ-साथ विभिन्न राज्यों की सरकारों द्वारा की जा रही है। कोविड-19 महामारी के चलते राज्य सरकारों द्वारा स्कूल एवं कॉलेज स्तर पर अभी भी एनईपी 2020 को लागू करने की तैयारी चल रही हैं, वहीं दूसरी ओर मध्य प्रदेश सरकार द्वारा एनईपी 2020 को उच्च शिक्षा के क्षेत्र में लागू किया जा रहा है। मध्य प्रदेश सरकार ने वर्तमान शैक्षणिक सत्र 2022-22 से ही एनईपी 2020 के सुधारों को लागू करने की तैयारियां पूरी कर ली हैं। इस सम्बन्ध ने राज्य सरकार में उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने वीरवार, 12 अगस्त 2022 को राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 (MP National Education Policy 2022) लागू कर दिया।

Haryana New Education Policy 2022

हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति2020 को लागू करने वाला राज्य देश में पहले स्थान पर है। उच्चतर शिक्षा में महिलाओं की भागीदारी जल्द ही 50 फीसद तक लाने के प्रयास किया जायेगा।एनईपी के कार्यान्वयन से पूरे देश में युवाओं के भविष्य को सुरक्षित बनाने के लिए एक नए युग की शुरुआत हुई है। मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने हर वर्ष 29 जुलाई को नई शिक्षा नीति दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की है। राज्य सरकार ने 2025 तक हरियाणा में NEP में दिए गए सभी प्रावधानों को पूरा करने का लक्ष्य रखा है। हरियाणा को शिक्षा का वैश्विक केंद्र बनाने के लिए राज्य सरकार का प्रयास होगा। विश्वविद्यालयों को यह सुनिश्चित करने के लिए पहल करनी होगी कि चिकित्सा शिक्षा, तकनीकी शिक्षा, उच्च शिक्षा के ग्रेड में सुधार कैसे किया जा सकता है।

 Another Language NEP PDF
Tags related to this article

1 thought on “नई शिक्षा नीति इन हिंदी 2020 PDF | Nyi Shiksha Niti 2022”

  1. Sir ji ?,
    College change ki baat sahi hai ke nahi bahut confused ho rahe hai.
    Please bata dijiye hame change krwana hai change krwane pr second year dushre college me kr sakege ke nahi ki fist year se start krna padega

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top